KBC 10 की पहली करोड़पति बनी बिनिता, आतंकियों ने 15 साल किया था पति को अगवा

0
29

कौन बनेगा करोड़पति (KBC-10) की इस साल की करोड़पति बनने वाली पहली कंटेस्टेंट बिनिता जैन अब हॉट सीट पर आ चुकी हैं. बिनिता जैन, असम, गुवाहाटी में एक कोचिंग सेंटर चलाती हैं और वो इस सीज़न की अब तक की सबसे चर्चित प्रतियोगी हैं, क्योंकि सोनी टीवी इस बात का खुलासा कर चुका है कि वो करोड़पति तो बनी ही हैं, वो 7 करोड़ के सवाल पर भी आ चुकी हैं. अब 2 अक्टूबर को सामने आएगा कि क्या वो 7 करोड़ रुपये के सवाल को पार कर पाएंगी ?

बिनिता जैन अपने पिता, जेठ, बेटे रोहित और बेटी काव्या के साथ केबीसी खेलने पहुंची. 5.42 सेकेंड में फास्टेस्ट फिंगर पार करने वाली बिनिता ने बताया कि उनकी शादी जल्दी (1991) में होने की वजह से वो पढ़ाई पूरी नहीं कर पाई. फिर उन्होंने धीरे-धीरे अपनी पढ़ाई पूरी की.

बिनिता जैन ने बताया कि कैसे साल 2003 में उनके पति को आतंकियों ने अगवा कर लिया था. उसके बाद वह आज तक नहीं लौटे. फिर घर के खर्च और बच्चों की पूरी जिम्मेदारी उनके कंधों पर आ गई.

केबीसी के इस सीज़न में 1 करोड़ के सवाल का सही जवाब दे चुकीं बिनिता जैन को लगता है कि उनके पति कभी न कभी तो वापस आएंगे. उन्होंने बताया, ‘मुझे आज तक नहीं पता कि मेरे पति कहां हैं? साल भर तक उनका इंतज़ार करने के बाद मैं जिंदगी में आगे बढ़ गई. कोचिंग क्लासेस शुरू कर दी. बेटा छठीं और बेटी दूसरी क्लास में थी, जब वो हादसा हुआ था.’

अमिताभ बच्चन ने भी माना कि बिनिता जैन बहुत बड़ी प्रेरणा स्त्रोत हैं और खुद अमिताभ ने माना कि वो उनसे मिलकर प्रेरित महसूस कर रहे हैं. आजतक उनके पति की कोई खबर उनको नहीं मिल पाई है.

केबीसी खेलने के दौरान बिनिता जैन ने अमिताभ बच्चन को असम की चाय तोहफे में दी. इसी दौरान उन्होंने ‘बिग बी’ से पूछा कि क्या जया बच्चन उनसे नाराज़ होती हैं? इस पर अमिताभ ने कहा कि वो टीवी पर तो यही कहेंगे कि पत्नी जी कभी नाराज़ नहीं होती.

अब बात करें केबीसी गेम शो की, तो बिनिता जैन 6 लाख 40 हज़ार के सवाल पर कुछ देर अटकी ज़रूर, लेकिन जनता भी जिस सवाल का जवाब नहीं दे पा रही थी, उसका जवाब उन्होंने सही दिया. इस सवाल में उलुक गिबन की प्रजाति के बारे में सवाल पूछा गया था.

12 लाख 50 हज़ार के सवाल पर भी बिनिता को थोड़ा समय लगा. सवाल था कि 1944 में अप्रैल से सितंबर के बीच किस किताब को जेल में लिखा गया था? इस सवाल के चार ऑप्शन थे – ‘द डिस्कवरी ऑफ इंडिया’, ‘माइन काम्फ’, ‘गीतांजलि’, ‘माइ एक्सपेरिमेंट्स विद ट्रुथ’. इस सवाल के लिए बिनिता ने 50:50 लाइफलाइन का इस्तेमाल किया, जिसके तहत दो गलत उत्तर मिटा दिए गए. फिर बिनिता ने ‘द डिस्कवरी ऑफ इंडिया’ को लॉक किया, जो कि सही जवाब था. भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने अहमदनगर जेल में रहते हुए ये किताब लिखी थी.