सूबे के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस को देश व प्रदेश के दलितों से ज्यादा अपने खुद के परिवार की चिंता रही है। इन तीनों ने दलित व पिछडो को वोट बैंक की तरह इस्तेमाल कर अपने परिवार को आगे बढ़ाया है। भाजपा शासन में ही यह संभव है कि पिछड़े वर्ग के नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री और अति दलित वर्ग के रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति बने हैं। उन्होने कहा कि एक तरफ भाजपा राष्ट्रीय एकता और मजबूत राष्ट्र का संकल्प व राष्ट्रीय विचारधारा के साथ खडी है वही दुसरी तरह वह लोग है जो राष्ट्र एवं समाज को बाटने की बात कर रहे है। सम्मेलन मे कम भीड को देख उपमुख्यमंत्री काफी मायूस भी दिखे।

उप मुख्यमंत्री गुरुवार को पडरौना नगर के उदित नरायण डिग्री कालेज के खेल मैदान मे आयोजित ” विजय लक्ष्य सम्मेलन” को संबोधित कर रहे थे। डॉ. शर्मा अपने चुनावी सभा  के संबोधन के दौरान काफी हमलावर रहे। उन्होने शब्दकोश के तरकस से व के साथ-साथ सपा और बसपा पर खूब शब्दभेदी बाण छोड़े । इस दौरान कार्यक्रम मे निराशाजनक भीड व गुटबाजी देख डा शर्मा नसीहत का पाठ पढ़ाने से भी नहीं चूके। अधिकांशतः खाली कुर्सियां उनके माथे पर चिंता की लकीर बनी हुई थी। उपमुख्यमंत्री कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस शासन में गांधी परिवार ने विकास के नाम पर देशवासियो को सिर्फ धोखा देती रही है। उन्होने कहा कि 72 साल तक देश पर राज करने वाले जनता को 72 रूपये नहीं दिये आज वह जनता को 72 हजार देने की बात कर रहे है। इसके  विपरीत मोदी सरकार ने अपने पाच साल के कार्यकाल मे “सबका साथ, सबका विकास” के संकल्प को पुरा करते हुए विश्व मे भारत का मान बढाया है यही वजह है कि विकसित देश आज की तारीख मे भारत को एक उभरती हुई शक्ति के रूप मे देख रहे है। उन्होने मोदी सरकार के पाच वर्षो के कार्यों का बखान करते हुए कहा कि एक तरफ मोदी है और दूसरी तरफ देश की सभी दल एकजुट है उनका एकमात्र उद्देश्य है मोदी को हराना ।मोदी राष्ट्र की एकता,अखण्डता और सबका साथ सबका विकास की बात करते है और वो सिर्फ मोदी हराओ चिल्लाते है उन्हें देश, समाज और जनता से कोई सरोकार नहीं है उन्हें तो बस मोदी हराओ और किसी तरह से सत्ता हासिल करने से मतलब है।

उन्होने मजाकिया अंदाज मे कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आंख तरेरते है तो पाकिस्तान काप जाता है और एक राष्ट्रीय दल के नेता सांसद मे आंख मारते है तो बच्चा  हंसता है। उन्होने कहा कि बडो का सम्मान करने की बात करने वाले सपा मुखिया अखिलेश यादव ने खुद अपने पिता की कुर्सी छीन ली जो खुद आरोपो से घिरे विरोधी भाजपा पर आरोप लगा रहे है। उन्होने भाजपा प्रत्याशी के पक्ष मे वोट करने की अपील करते हुए कहा कि चौकीदार चोर कहकर आमजन का अपमान करने वाले को जनता जबाब दे रही है ” एक बात श्योर है चौकीदार प्योर है।

Report-
संजय चाणक्य
कुशीनगर (उ०प्र०)    ।

The post एक बात श्योर है चौकीदार प्योर है- दिनेश शर्मा… appeared first on SAMACHAR BHARTI.