गिलाकोर सोसायटी पर किसानों की ऋण राशि में हेराफेरी एवं घपले का आरोप

0
15

 

बिरामी जोधपुर। हाल ही मे सरकार द्वारा किसानो का अल्पकालीन फसली ऋण माफी के अनुसार ऋण राशि से तीन गुनी ऋण राशि की माफी देखकर किसानों के होश उड़ गये। मामला गिलाकोर ग्राम सेवा सहकारी समिति का है समिति पर किसानो के लौन मे हेरा फेरी एवं घपले का आरोप लगा है।
ऋण माफी सूची में उठाई गई ऋण राशि से दुगुनी एंव तीनगुनी माफी देखकर किसानो ने बुधवार को व्यवस्थापक पुंजराज सिह एंव अध्यक्ष मालाराम को घेरते हुए किया भारी विरोध प्रदर्शन किया।
माणकराम,समधी देवी,करना राम,रघुनाथ राम,संग्राम राम, जेता राम,जोरा राम,जगदीश चंद्र, नारायण राम सहित अन्य किसानों ने दी सेंट्रल कॉपरेटिव बैंक लिमिटेड शाखा देचू में लिखित में शिकायत देकर गिलाकोर सोसाइटी के मार्फत दिए गए लौन मे हेराफेरी एंव घोटाले के जाँच की मांग की है। किसानों का आरोप है कि एक किसान ने चालिस हजार रु का लौन उठाया जो ब्याज सहित समय-समय पर जमा करना भी बता रहा है राजस्थान सरकार की जन घोषणा के अनुसार अल्पकालीन फसली ऋण माफी सूची में एक लाख चालिस हजार का ऋण माफ होना बताया गया जिसको लेकर कही न कही किसानो का आरोप है सही साबित होता दिख रहा है की किसानो के लौन मे हेराफेरी हुई है जो करीब दस पन्द्रह किसानो के एक-एक लाख रुपये की हेराफेरी सोसायटी द्वारा करना सामने आया है,इस तरह की राशि की हेराफेरी कई किसानों के खातों में दर्ज है,आखिर कहा घपला हुआ है इसका पूरा पता तो जाँच के बाद ही सबके सामने खुल पायेगा!
किसानों ने सोसायटी पर घपले का आरोप लगाते हुए जिला कलेक्टर सहित दी सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड बैंक के आला अधिकारियों से जांच करने मांग की है

किसानों के आरोप का यह दिया अधिकारियों ने जवाब

हेरा-फेरी एवं घोटाले के आरोप लगाना निराधार है अगर आरोप है तो जांच के बाद सब सामने आ जाएंगे।
व्यवस्थापक पुंजराजसिह
ग्राम सेवा सहकारी समिति गिलाकोर

गीलाकोर सोसाइटी के माध्यम दिए गए एक लौन में किसी भी प्रकार की कोई गड़बडी़ नही हुई है।अध्यक्ष मालाराम
ग्राम सेवा सहकारी समिति गिलाकोर

सोसाइटी के माध्यम से दिए गए लौन मे हेरा-फेरी को लेकर गिलाकोर समिति के सदस्यों ने लिखित में शिकायत पेश की है शिकायत की जांच करेंगे।

महकीराम मीणा
कार्यवाहक शाखा प्रबंधक
दी सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक लिमिटेड शाखा देचू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here