अचानक ब्रेक लगाने से ट्रोले में घुसी कार दुल्हे की मौत दुल्हे के रिश्तेदार घायल
हरमाड़ा : एक बार फिर बजरी माफिया ने परिवार की खुशियां छीन ली। शादी के खुशी के माहौल को मातम में बदल दिया। जयपुर सीकर हाईवे पर तेज रफ्तार बजरी से भरे ट्रोले ने अचानक ब्रेक लगा दिए। इससे उसके पीछे चल रही कार उसमें जा घुसी। हादसे में नवविवाहित दूल्हे की मौत हो गई, जबकि उसकी पत्नी सहित 4 लोग  घायल हो गए।हादसे के बाद चालक ट्रोला छोड़कर भाग निकला। हादसा देखकर ट्रोले का पीछा कर रही आरटीओ की टीम भी रूकने की बजाय वहां से चलते बने। आरटीओ की टीम ने घायलों की मदद तक नहीं की। मृतक की मंगलवार रात को ही शादी हुई थी और वह सुबह विदाई के बाद दुल्हन को लेकर घर लौट रहा था। मृतक के परिवार में नव दुल्हन के स्वागत की घर में तैयारी चल रही थी लेकिन सबसे पहले ही दुल्हे की मौत की खबर। परिजनों को मिल गई हादसे के बाद आक्रोशित लोगों ने सड़क पर जाम लगा दिया। जहां मौके पर चोमू पुलिस पहुंची और लोगों को समझा-बुझाकर रास्ता खुलवाया।लोगों का आरोप है कि पुलिस व खनन विभाग के अधिकारी मिलकर बजरी के अवैध खनन को बढ़ावा देते है। बजरी से भरे वाहन हाइवे पर तेज रफ्तार में दौडते है जोकि कई बार हादसे की वजह बन चुके है। पुलिस के अनुसार बुधवार सुबह करीब 9 बजे निवासी नायन अमरसर 32 वर्षीय अजय कुमार पुत्र गोकुल मीणा रामगंज अजमेर से दुल्हन को लेकर लौट रहा था। उसके साथ कार में उसके जीजा व दो बहने रितु और पिंकी  भी सवार थी। जहां हाईवे के जैतपुरा के पास आगे चल रहे बजरी से भरे ट्रोले ने अचानक ब्रेक लगा दिए। इससे कार बेकाबू होकर ट्रोले में जा घुसी जिससेेे यह हादसा गठित हो गया पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया वही इस संबंध में परिजनों ने ट्रॉले चालक के खिलाफ टक्कर का मामला दर्ज कराया है पुलिस ने मामला दर्ज कर आगेे की जांच शुरू कर दी है 

दूल्हा अध्यापक और दुल्हन कोर्ट में एलडीसी के पद पर कार्यरत


जानकारी के अनुसार पुलिस ने बताया कि मृतक अजय कुमार बाड़मेर में सेकंड ग्रेड अध्यापक की पोस्ट पर कार्यरत था वही दुल्हन 28 वर्षीय सुनीता पुत्री ओम प्रकाश अजमेर कोर्ट में एलडीसी के पद पर तैनात थी जहां शादी मंगलवार को ही हुई थी और विदाई होने के बाद घर लौट रहे थे जहां जैतपुरा के पास हादसा हो गया

दूल्हे की दो बहने सहित दुल्हन व दूल्हे का जीजा हुआ घायल


जानकारी के अनुसार मृतक अजय की शादी अजमेर में हुई थी जहां दुल्हन को लेकर घर लौट रहा था और रास्ते में ही हादसा घटित हो गया हादसे की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को बाहर निकाल कर अस्पताल पहुंचाया, जहां पर अजय की उपचार के दौरान मौत हो गई, जबकि अन्य 4 घायलों का उपचार जारी है। घायलों में दुल्हन व दुल्हे के जीजा ओमप्रकाश जो कार चला रहा था और पिंकी और रितु दोनों बहने घायल हो गई  


ट्रोले का रोड नम्बर चौदह से पीछा कर रहा था आरटीओ


स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के आधार पर बजरी से भरे ट्रोले को आरटीओ ने रोड नम्बर चौदह विश्वकर्मा में रूकवाने का प्रयास किया था, लेकिन चालक ट्रोला लेकर भाग निकला। आरटीओ ट्रोले का पीछा कर रहा था। इसके चलते चालक ट्रोले को दौडा रहा था इस दौरान रास्ते में कई वाहन चालक उसकी चपेट में आने से बच गए। लेकिन जैतपुरा में चालक ने सामने अचानक वाहनों की भीड देखकर ट्रोले के ब्रेक लगा दिए। हादसे में कार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई।

परिजनों का रो-रोकर हुआ बुरा हाल


जैसे ही हादसे की सूचना परिजनों को मिली तो खुशियां मातम में बदल गई और घर में चीख-पुकार मच गई पूरा गांव मृतक अजय के घर धीरे धीरे हादसे की सूचना पर एकत्रित हो गया और परिजनों को सांतवा दिलाते रहे गांव में हर किसी के चेहरे पर शोक की लहर देखने को मिल रही थी जैसे ही मृतक का शव घर पहुंचा तो परिजनों को संभालना मुश्किल हो गया और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया मृतक के परिजन बारी बारी से बेहोश हो रहे थे जहां डॉक्टरों की टीम भी मृतक के घर दिन भर रही

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here